#bleedingink

quotes

राहगुज़र हूँ उन यादों की गलियों की,
जो पड़ चुकी हैं ज़र्द किसी पुराने गुलाब के रंग-सी,
जिसकी खुशबू आज भी जिंदा है,
मेरे हर कलमे में बहती स्याही और लफ़्ज़ों में।

#memories#nostalgia#writer#bleedingink#words#fade#fragrance#traveller#YQbaba#writersclubbhopal

12 JAN AT 10:16

एक महान लेखक 'अग्यये'  जी ने कहा था कि जब तक अनुभूति न हो तब तक लेखन कार्य सम्पादित नहीं हो सकता। 
एक लेखक निरंतर लिखता है। वह अपने शब्दों से जड़त्व को भेदता है। 
समाज को एक नयी राह दिखाने के लिए, अपने भीतर के ज्वार को शांत करने के लिए , और इस आधुनिक प्रौद्योगिकी के युग की नीरसता को सजीवता प्रदान के लिए मैंने भी अपने शब्दों को हथियार बनाया है।
अपने अंतस के कोलाहल को लफ़्ज़ों के माध्यम से  व्यक्त करना ही मेरा एकमात्र उद्देश्य है। एक ऐसी इबारत लिखना जो सदियों तक याद रखी जाए,
यही मेरी ख्वाहिश है और यही मेरी प्रेरणा है।
और जब तक मेरे अंतर्मन को गहरी अनुभूति का एहसास होता रहेगा, मैं उसकी अभिव्यक्ति करती रहूंगी।

This is why I write! #inspiration#writer#writing#society#bleedingink#pen#history#feelings#expression#anubhuti#abhivyakti#YQbaba

10 JAN AT 14:36

This NEW year,
Let the splendour of your entwined emotions ooze out of your hearts via your bleeding pen and let that ink seep slowly into the souls who could relate to and mirror themselves in those words reflecting the radiance of your psyche.

#NEW#emotions#writer#bleedingink#YQbaba#happyNewYear#writersclubbhopal

1 JAN AT 22:18