#Intercaste

10 quotes

👇तस्वीर👇
(in caption)

तकिये के नीचे एक तस्वीर रखी हैं जैसे ढहती इमारत के मलबे से दबी कई बरस की यादें हो सीमा, तस्वीर को देख, करती थी रोज़ मर्राह की बाते कभी मुस्कुराती, कभी आँखे नम हो जाती जो चेहरा तस्वीर में कैद था, वो दूर बैठा सरहद पर हुकुम बजा रहा था जब भी कोई पूछता "कब लौट रहे हैं आदिल,सरहद से" तब सीमा का दिल रोने लगता और आँखे मुस्कुराती मानो जैसे जलती लपट में कोई घी उड़ेलता हो सीमा, रोज़ कुछ ना कुछ आदिल के पसंद का खाना बनाती तस्वीर संग बैठ फिर खाती जैसे आदिल अपने हाथ से रोटी का कौर उसे खिलाता आदिल की माँ भी रहा करती थी सीमा के साथ जो घर की दीवार पर टंगी आदिल के पिता की तस्वीर को देखा करती थी सीमा ने भी बहुत पहले सीख लिया था तस्वीरों से बात करना सीमा और आदिल अपनी ज़िंदगी की एक जंग लड़कर जीत चुके थे, जब एक रिश्ते में वो बंधे एक जंग जीतनी बाकी है। #yqbaba #yqdidi #yqpoetry #anshulwrites #NaPoWriMo #23 #soldier'swife #intercaste #war #border #photo

23 APR AT 9:11