#%E0%A4%A4%E0%A5%81%E0%A4%AE

175 quotes

कम्बख्त तुम्हारी यादों ने चरस वो दी है जिन्दगी में
दिन और रात बस तुम ही चढ़ी रहती हो दिमाग में

#तुम#चरस#YQBaba#

YESTERDAY AT 12:58

तुम्हारी तलब सिगरेट की तलब से ज्यादा हैं..

#कश#सिगरेट#तुम#YQbaba#YQdidi@Mishthi rawat

22 MAR AT 14:53

आसमांन पे छाऐ है आज़ बादल अंगिन्त क्यो
जैसे आवाज़ हो वो,जिनकी राय नही है आज़ क्यो..

बरसो जो एक दिन मुझपे कभी,
हो जाउंगा मै भी कवी
वो गीत जो सारे,अभी नही कही
हो जाएंगे अमर वो सारे कभी
यू हार कर तुम वो बादल सभी
चमकवादो सितारा उस आसमांन पर,मेरा कभी..

(caption has it all) आसमांन है उसका चहेरा, आंखो की नमी बादल,कहना कुछ कहानी चाहे आवाज़ ना जाने कहा गुम हो जाऐ,बरसे जो कभी वो मुझ पर,गाउंगा मै गीत मल्हार,बस सुनकर इन को, सिंदूर मेरे नाम का आसमांन पर लगा,वो अमर करले मुझे खुद मे कही...चाहुंगा मै बस यही #आसमांन #चहेरा #बादल #सिंदूर #अमर #मै #तुम #साथ #चाहत #मेरी #YQdidi #हिन्दी #हिंदी #YQbaba #poem #worldpoetryday #rrrhyme

22 MAR AT 12:35

इतेफ़ाक से मिलते-मिलते 
जाने कब
तुमसे 'वो मुलाक़ात' हो गयी,
मुलाक़ात करते-करते 
जाने कब
तुमसे 'वो बात' हो गयी
बात होते-होते
जाने कब
तुम 'मेरे जज़्बात' हो गयी
जज़्बात बनते-बनते
जाने कब
तुम मेरी 'हर रात' हो गयी

अब हर रात भी तुम हो
ख़्वाब-ओ-ख़्यालात भी तुम हो

मेरी सारी ज़िन्दगानी
मेरी रवानी 
मेरी कहानी भी तुम हो
- साकेत गर्ग

इतेफ़ाक से मिलते-मिलते जाने कब तुमसे 'वो मुलाक़ात' हो गयी, मुलाक़ात करते-करते जाने कब तुमसे 'वो बात' हो गयी बात होते-होते जाने कब तुम 'मेरे जज़्बात' हो गयी जज़्बात बनते-बनते जाने कब तुम मेरी 'हर रात' हो गयी अब हर रात भी तुम हो ख़्वाब-ओ-ख़्यालात भी तुम हो मेरी सारी ज़िन्दगानी मेरी रवानी मेरी कहानी भी तुम हो - साकेत गर्ग #इतेफ़ाक #मुलाक़ात #बात #जज़्बात #रात #खयालात #जिंदगानी #रवानी #कहानी #तुम #मेरे_जज़्बात #मेरी #हर_रात #ख़्वाब_ओ_ख़्यालात #ख्वाब #ज़िन्दगानी #मेरी_कहानी #तुम_हो #You #हिंदी #हिंदी_उर्दू #उर्दू #Hindi #HindiUrdu #Urdu #Love #Life #YQBaba #YQDidi #SaGa

22 MAR AT 2:19

                तुम बिन

आ हाथ पकडले , घबराता क्यूँ है !
तुम बिन अधूरा हूँ मै , लाइल्मी क्यूँ है !!

खताये माफ हो , इक नजर इधर कर दो !
तुम बिन रह पाऊगाँ ,फिर नासमझी क्यूँ है !!

तुम से शुरू , तुम पर खत्म यही सार मेरा ! 
 देखो तुम बिन कैसी बेसाज़ है जिन्दगी, फिर ये नादानी क्यूँ है !!

गश खाकर गिरा कैसी ठोकर थी !
"तुम बिन" सोचा ख्याल था,ये बरहमी क्यूँ है !!

रात कितनी बडी शबे बेसहर सी है ! 
चाँद से की है दोस्ती , नींद से दुश्मनी क्यूँ है !!

तन्हाई सी तन्हाई इक अजब खामोशी क्यूँ है ! 
जो तुम नही तुम बिन ये जिन्दगी क्यूँ है !!

#तुम बिन #yqdidi रात कितनी बडी शबे बेसहर सी है ! चाँद से की है दोस्ती , नींद से दुश्मनी क्यूँ है

21 MAR AT 3:17

मेरा
सबसे बड़ा 
डर है कि
तुम बदल ना जाओ
कहीं ज़माने की 
रौ में बह ना जाओ
तुम्हारा ख़्वाब 
क़ामयाबी है 
और मेरा ख़्वाब
तुम्हारी ख़ुशी है
जब भी 
तुमसे बात हुई
यही कहा 
हर बार,बार-बार
कि तुम बदल मत जाना
मेरे लिए 
ये एहसास काफ़ी है कि
मैं याद हूँ तुम्हें
जब भी गाहे बगाहे
बात करो यही अपनाइयत हो
हम दूर दूर भले हों
लेकिन इक दूसरे से जुदा न हों
मैंने तुमसे कहा था
जिस दिन तुम्हारा 
लहज़ा बदल जाएगा
तुम मुझे खो दोगे
मैं चली जाऊंगी ख़ामोशी से
तुम हँस दिए थे
थोड़ी देर ठहरते हुए कहा 
मुझे पता है 
तुम कहीं नहीँ जाओगी
मेरा यक़ीन है 
तुम मिलोगी मुझे इंतज़ार करती
हाँ सच कहा तुमने 
मैं नहीं बदल सकती तुम्हारी तरहा
मेरा इश्क़ ईमान है मेरा
मैं बेईमान नहीं बन सकती।

#इश्क़#डर#तुम

19 MAR AT 23:42